BSTC full form- BSTC क्या है यह कोर्स कैसे करे- यहाँ सारी जानकारी मिलेगी

दोस्तों, आपने बीएसटीसी नाम तो सुना ही होगा परंतु क्या आप बीएसटीसी की फुल फॉर्म जानते है? क्या आप BSTC full form जानते है? क्या आप जानते है BSTC के लिए योग्यता क्या होती है? आज मैं आपके लिए बीएसटीसी कोर्स डीटेल के साथ-साथ बीएसटीसी क्या है, के बारे में विस्तार से बताने जा रहा हूँ BSTC के फायदे जानने के लिए आपको इस पोस्ट को अन्त तक पढ़ना पड़ेगा | इसके साथ ही मैं आपको बताने वाला हूँ कि बीएसटीसी कोर्स कब किया जाता है | इसके फॉर्म कब भरे जाते है ताकि विद्यार्थी इस कोर्स के लिए तैयारी कर सके |

BSTC full form in hindi

BSTC क्या है ? – What is BSTC

यह एक प्रकार का कोर्स होता है जिसकी अवधि दो वर्ष की होती है | बीएसटीसी में प्रवेश 12 वीं कक्षा के तुरंत बाद लिया जा सकता है | इस कोर्स में छोटे- कक्षाओं (प्राइमरी कक्षा) के विद्यार्थियों को पढ़ाने की ट्रेनिंग दी जाती है |

इस कोर्स में 12 वीं कक्षा के विद्यार्थी के पास कोई भी subject (विषय) हो, चाहे उसके पास आर्ट्स, साइन्स या कॉमर्स विषय हो, इसमे से कोई भी subject का विद्यार्थी बीएसटीसी में प्रवेश ले सकता है |

बीएसटीसी कोर्स में प्रवेश के लिए एक परीक्षा पास करनी होती है जिसमे पास होने के बाद ही इस कोर्स में प्रवेश लिया जा सकता है | यह परीक्षा BSTC entrance exam कहलाती है | इस परीक्षा में सफल होने के बाद कई बार काउंसिलिंग होती है जिसमे मेरिट के अनुसार विद्यार्थियों को कॉलेज का आवंटन होता है | कॉलेज आवंटन के बाद वह विद्यार्थी बीएसटीसी कोर्स में दाखिल होना माना जाता है | अगले दो वर्ष के बाद उसे बीएसटीसी पास माना जाता है |

BSTC full form क्या होती है हिन्दी में?- BSTC full form in Hindi

दोस्तों मैं जानता हूँ BSTC full name क्या होता है, इसके बारे में कई लोग नहीं जानते है | मैं आपको बताना चाहूँगा कि[highlight color=”yellow”]BSTC की full form Basic School Teaching Certificate होती है |[/highlight] इसके साथ ही [highlight color=”yellow”]बीएसटीसी की फुल फॉर्म हिन्दी में बुनियादी विद्यालय शिक्षण प्रमाणपत्र होती है |[/highlight]

BSTC course कैसे करे– जैसा कि मैंने आपको ऊपर की तरफ बताया कि 12 वीं कक्षा पास होने के बाद इस कोर्स में entrance एक्जाम को पास करके इस कोर्स में प्रवेश ले सकते है | यह BSTC entrance exam सामान्यतया हर साल मई माह में आयोजित होता है | अर्थात जैसे ही अप्रैल माह में 12 वीं कक्षा का परिणाम होता है उसके अगले महीने में इस एक्जाम को देना होता है | वैसे तो 12 वीं कक्षा की परीक्षा लगभग मार्च महीने में खत्म हो जाती है | इसलिए यदि कोई विद्यार्थी अगले 2 माह में सही से तैयारी करता है तो वो मई माह में होने वाले entrance एक्जाम को पास कर अच्छी मेरिट हासिल कर सकता है |

अच्छी तैयारी करने वाले विद्यार्थी को पहली काउंसिलिंग में ही कॉलेज का आवंटन हो जाता है तथा बीएसटीसी में प्रवेश कर अगले 2 साल में BSTC certificate प्राप्त कर लेता है |

[box type=”shadow” align=”aligncenter” class=”” width=””]बीएसटीसी का फुल फॉर्म Basic School Training Certificate होता है |[/box]

BSTC course detail (बीएसटीसी कोर्से के बारे में हिन्दी में जानकारी)

यह एक प्रकार का पढ़ाने की ट्रेनिंग का कोर्स माना जाता है जिसके लिए एंट्रैन्स एक्जाम होता है | इस एक्जाम में सामान्य ज्ञान, हिन्दी, अङ्ग्रेज़ी, इत्यादि के प्रश्न पूछे जाते है |

यह कोर्स दो वर्ष का होता है तथा दो वर्ष के पश्चात विद्यार्थी बीएसटीसी पास माना जाता है तथा वह कक्षा एक से लेकर पाँचवी कक्षा के बच्चो को पढ़ाने के योग्य माना जाता है |

आईआरएस का फुल फॉर्म क्या होता है?

BSTC के लिए योग्यता

मैं आपको बताना चाहूँगा कि बीएसटीसी कोर्स में प्रवेश entrance exam के द्वारा ही होता है | तथा इसके लिए पूर्व में ऑनलाइन आवेदन भी करना होता है | इस कोर्स के लिए आवेदन करने से पूर्व विद्यार्थी 12 वीं कक्षा पास होना जरूरी होता है |

12 वीं कक्षा पास करने के बाद ही बीएसटीसी कोर्स में प्रवेश लिया जा सकता है | इसके साथ-साथ यदि आपके 12 वीं कक्षा के समकक्ष कोई अन्य परीक्षा पास कर रखी है तो भी आप BSTC का आवेदन भर सकते है |

BSTC के फायदे

बीएसटीसी स्कूल में बच्चो को पढ़ाने के लिए एक बेसिक कोर्स होता है | इस कोर्स के बाद में वह विद्यार्थी के पास क्या क्या फायदे होते है, कि जानकारी नीचे दी जा रही है:-

  • इस कोर्स के बाद विद्यार्थी किसी भी प्राइवेट स्कूल में छोटे बच्चों को पढ़ाने के लिए योग्य हो जाता है |
  • यह एक प्रकार का सर्टिफिकेट होता है जिसमें बच्चों को पढ़ाने का अनुभव के रूप में बताया जा सकता है |
  • राजस्थान सरकार में आयोजित होने वली 3rd grade परीक्षा जिसे reet के नाम से भी जाना जाता है, में शामिल होकर सरकारी स्कूल में प्राइमरी कक्षाओं (एलकेजी से 5 वीं कक्षा) के बच्चों को पढ़ाने वाला अध्यापक बन सकता है | परंतु इसके लिए उसे Reet परीक्षा में मेरिट में आना पड़ता है |
  • BSTC के बाद आप आगे भी पढ़ सकते है |
  • graduation एवं BEd भी कर सकते है |

बीएसटीसी कितने साल की होती है?

समान्यतया बीएसटीसी का कोर्स 2 वर्ष का होता है जिसमें कुछ दिन इन्टरन्शिप भी होती है अर्थात कुछ दिन स्कूल में पढ़ाने की प्रेक्टिस दी जाती है | दो वर्ष पूर्ण होने के बाद बीएसटीसी पास माना जाता है | तथा इसका सर्टिफिकेट भी मिल जाता है जिसको आप 3rd grade परीक्षा के लिए आवेदन करते समय उपयोग में ले सकते है |

आज मैंने आपको full form of BSTC व BSTC ki full form के साथ साथ बीएसटीसी कोर्स के बारे में  विस्तार से बताया है | इस कोर्स को कोन कोनसा विद्यार्थी कर सकता है, इस कोर्स के क्या क्या फायदे है, के बारे में मैंने आपको हिन्दी में जानकारी दी है | आशा करता हूँ कि मेरी जानकारी आपको पसंद आई होगी | आप यदि इसी प्रकार जानकारी सरल हिन्दी भाषा में जानना चाहते है तो आप इस वैबसाइट को लगातार विजिट करते रहे |  rd

Leave a Comment

close