ओएमआर का फुल फॉर्म क्या होता है? (OMR full form in Hindi)

आपने ओएमआर शीट के बारे में सुना होगा | आपने परीक्षा देते समय प्रयोग में ली जाने वाली ओएमआर शीट को देखा होगा | इस ओएमआर का फुल फॉर्म क्या होता है? (OMR full form in Hindi)

आज हम इस पोस्ट में ओएमआर अथवा ओएमआर शीट के बारें में विस्तार से बात करने वाले है | यह वही ओएमआर है जो परीक्षा के दौरान गोले भरने के लिए दी जाती है |

OMR full form in Hindi

ओएमआर का फुल फॉर्म हिन्दी में (OMR full form in Hindi)

ओएमआर का फुल फॉर्म हिन्दी में ऑप्टिकल मार्क रीडर होता है | जिसे हम इंग्लिश में Optical mark Reader लिखते है |

यह एक स्कैनर मशीन होती है जिसमे ओएमआर शीट में पेंसिल एवं पेन से किए गए गोले को पढ़ने की क्षमता होती है |

ओएमआर स्कैनर मशीन का निर्माण ओएमआर शीट को पढ़ने व जाँचने के कार्य के लिए किया गया है | यह ओएमआर शीट में उपलब्ध डाटा जो कि गोले के रूप में शीट पर स्थित होते है, का संग्रहण करने का कार्य करती है |

आपने कई ऐसे एक्जाम दिये होंगे जिसमे आन्सर शीट के रूप में ओएमआर शीट दी गयी होगी है | इस ओएमआर में आपके a, b, c, d में से कोई एक पर गोला करना होता है |

एक्जाम देने के बाद आपको पता नहीं होता कि उस ओएमआर शीट की जांच कैसे की जाती है | दरअसल सभी ओएमआर शीट को ओएमआर स्केनर में डाला जाता है जो कि उस ओएमआर शीट में भरे गए गोलों को पहचानकर डाटा इकट्टा करता है |

ओएमआर शीट में उत्तर में किए गोले पूरे होते है तो ओएमआर मशीन उस गोले को पढ़ लेती है लेकिन जब एक्जाम में आधा गोला ही किया होता है तो ऐसे आधे गोलों को ओएमआर स्कैनर नहीं पढ़ पाता है | इसलिए तो कहा जाता है कि ओएमआर शीट भरते समय सावधानी रखे तथा काले व नीले पेन से गोला पूरा भरे |

यह भी पढे- हूह का फुल फॉर्म क्या होता है?

ओएमआर कैसे काम करता है?

मैं आपको बताना चाहूँगा कि ओएमआर स्कैनर पर लेजर लाइट निकलती है | यह लेजर लाइट ओएमआर शीट पर डाली जाती है | जिससे ओएमआर शीट में अच्छी तरह से भरे गोले को लेजर लाइट भेद नहीं पाती है तथा जहां पर पेन से गोले नहीं किए होते है वहाँ ओएमआर शीट में लेजर लाइट आर-पार निकल जाती है |

जब लेजर लाइट पेन से किए गए गोले से टकराकर पुन: आ जाती है तो ओएमआर स्कैनर उसे पहचान लेता है तथा डाटा का संग्रहण कर लेता है |

यह भी पढे- एसडी कार्ड का फुल फॉर्म क्या होता है?

ओएमआर शीट क्या होती है ?

आप ओएमआर शीट तो जानते ही होंगे फिर भी मैं यहाँ आपके लिए एक ओएमआर शीट का सेंपल फोटो बता रहा हूँ | यह एक प्रकार की शीट होती है जिसमे कुछ गोले बने होते है | इन गोलो को पेन से भरने होते है |

भारत में अधिकतर एक्जाम में प्रश्न पत्र के उत्तर के लिए ओएमआर शीट का ही इस्तेमाल किया जा रहा है | इसी प्रकार विभिन्न प्रकार के सर्वे इत्यादि में भी इसी शीट का प्रयोग किया जाता है क्योंकि एक ओएमआर स्कैनर एक बारे में कई सारी ओएमआर शीट की जांच कर सकता है |

आपको बता दें कि सरकारी नौकरी की परीक्षाओं में ओएमआर शीट (OMR Sheet) का इस्तेमाल किया जाता है तथा उनमें उपलब्ध डाटा का संग्रहण कर सकता है |

एक्जाम मे ओएमआर शीट को बहुत ही ध्यान से भरना होता है अर्थात बहुविकल्पीय प्रश्नों का उत्तर उपलब्ध चार ऑप्शन मे से किसी एक को चुनना होता है तथा चुने गए उत्तर को ओएमआर शीट में पेन से गहरा गोला करना होता है |

यदि गोला आधा या कटा फटा होता है तो ओएमआर स्कैनर उसे नहीं पढ़ पाता है | इसलिए ओएमआर शीट पर पहले से निर्देश लिखे होते है ओएमआर शीट कैसे भरनी है |

OMR Sheet image

यह भी पढे- एटीएम का फुल फॉर्म क्या होता है?

ओएमआर के फायदे एंव नुकसान

आपको ओएमआर का फुल फुल फॉर्म (OMR full form in Hindi) तो पता चल ही गया | यह ओएमआर शीट की जांच करने के काम आता है | अर्थात यह एक प्रकार का रीडर मशीन होता है | अब बात करते है ओएमआर के फायदे एवं नुकसान की |

ओएमआर के फायदे

  • समय की बचत- क्या आप जानते है कि ओएमआर एक बार में कितनी शीट की जांच कर सकता है? एक ओएमआर स्कैनर एक घंटे में लगभग 10000 ओमर शीट की जांच कर सकता है |
  • गलतियाँ कम से कम– ओएमआर शीट को जाँचते समय ओएमआर स्कैनर न के बराबर गलतियाँ करता है
    | इसलिए परीक्षाओं में ओएमआर शीट में उत्तर पुस्तिका (answer sheet) की जाती है | तथा उनकी जांच इसी ओएमआर स्कैनर के द्वारा की जाती है |
  • लाखों शीट की जांच फटाफट– जब लोगों के बीच कोई सर्वे होता है तो उनका डाटा भी ओएमआर शीट में लिया जाता है | फिर ओएमआर स्कैनर के द्वारा इन्हीं शीट से डाटा का संग्रहण कर लिया जाता है तथा डाटा के अनुसार रिज़ल्ट भी जारी कर दिया जाता है | अर्थात कई सारी शीट में से डाटा का संग्रहण फटाफट हो जाता है |

ओएमआर के नुकसान

  • ओएमआर का सबसे ज्यादा नुकसान यही है कि ये केवल बहूविकल्पीय प्रश्न में उपलब्ध डाटा को ही पढ़ पाता है | जहां पर डाटा का संग्रहण करना होता है वहाँ इस ओएमआर शीट का इस्तेमाल नहीं कर सकते है |
  • यदि आपने शीट में गोले सही से नहीं भरे है तो ओएमआर आपके डाटा को नहीं पढ़ पाता है क्योंकि जब गोला पूरा सही से भरा होता है तभी यह स्कैनर डाटा का संग्रहण कर पाता है |

अंतिम दो लाइन

आज मैंने ओएमआर का फुल फॉर्म (OMR full form in Hind), ओएमआर शीट क्या होती है तथा ओएमआर स्केनर के बारे में विस्तार से बताया है | यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो आप इसे दोस्तों के साथ share कर सकते है |

Leave a Comment